सीएए के खिलाफ प्रदर्शन कई गाड़ियों में आग लगा दी गई

 दिल्ली सीएए के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोग और समर्थक जब आमने-सामने हुए तो माहौल दहशतनुमा हो गया दोनों ओर जमकर पत्थरबाजी की गई और कई गाड़ियों में आग लगा दी गई
 उपद्रवी बड़ी बेरहमी के साथ आम लोगों को नुकसान पहुंचा रहे हैं। लोगों के घरों पर पत्थर फेंके गए आग लगाई गई। यहां तक कि पेट्रोल पंप को भी आग के हवाले कर दिया गया। विरोध के नाम पर ये लोग इतने आक्रोशित हो गए हैं कि इन्हें किसी की जान लेने में भी गुरेज नहीं हो रहा है। उपद्रवियों की ओर से की गई फायरिंग में हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल की जान चली गई।  शख्स की भी जान चली गई है। ऐसे में सवाल उठ रहे हैं कि आखिर विरोध प्रदर्शन के नाम पर उपद्रवियों की हिंसा को जायज कैसे ठहराया जा सकता है।द‍िल्ली के मौजपुर से जाफराबाद वाली सड़क पर यह फायरिंग की गई है 



एक लड़का हाथ में तमंचा लेकर फायरिंग कर रहा है लड़के ने फायर‍िंग करते.करते अपनी प‍िस्तौल एक कॉन्स्टेबल के सीने पर रख दी लेक‍िन पुल‍िस कॉन्स्टेबल वहां से ह‍िला नहीं सीएए के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोग और समर्थक जब आमने.सामने हुए तो माहौल दहशतनुमा हो गया दोनों ओर जमकर पत्थरबाजी की गई और कई गाड़ियों में आग लगा दी गईद‍िल्ली के मौजपुर से जाफराबाद वाली सड़क पर यह फायरिंग की गई हैइस बीच एक वीडियो सामने आया है जिसमें एक लड़का हाथ में तमंचा लेकर फायरिंग कर रहा है लड़के ने फायर‍िंग करते.करते अपनी प‍िस्तौल एक कॉन्स्टेबल के सीने पर रख दी लेक‍िन पुल‍िस कॉन्स्टेबल वहां से ह‍िला नहीं