प्रशासनिक सुधार और लोक शिकायत विभाग ने डिजिटल परिवर्तन की सरकारी प्रक्रिया में उत्कृष्टता के लिए भारत निर्वाचन आयोग को ‘सिल्वर’ पुरस्कार प्रदान

प्रशासनिक सुधार और लोक शिकायत विभाग ने वर्ष 2019-20 के संबंध में डिजिटल परिवर्तन की सरकारी प्रक्रिया में उत्कृष्टता के लिए भारत निर्वाचन आयोग को ‘सिल्वर’ पुरस्कार प्रदान किया।यह पुरस्‍कार उन परियोजनाओं के लिए दिया जाता है, जिनमें कार्य प्रणाली का मूल्‍यांकन और उनकी पुनर्रचना शामिल होती है तथा जिनके तहत कुशलता, प्रक्रिया, गुणवत्‍ता और सेवा के क्षेत्र में सुधार किया जाता है



यह पुरस्‍कार 7-8 फरवरी, 2020 को मुंबई में आयोजित ई-प्रशासन पर 23वें राष्‍ट्रीय सम्‍मेलन के दौरान दिया गया। सम्‍मेलन का आयोजन प्रशासनिक सुधार और लोक शिकायत विभाग ने किया था। यह पुरस्‍कार वरिष्‍ठ उप निर्वाचन आयुक्‍त डॉ. संदीप सक्‍सेना तथा भारत निर्वाचन आयोग संबंधी एरोनेट के परियोजना प्रमुख तथा आईसीटी एवं सीआईएसओ निदेशक डॉ. कुशाल पाठक को दिया गया।


उल्‍लेखनीय है कि एरोनेट डेटाबेस, फार्मों की प्रक्रिया और मतदाता सूची के लिए टेम्‍पलेट बनाने की गतिविधियों का मानकीकरण करता है। मतदाता के पंजीकरण, मतदाताओं की जांच सहित मतदाता सूची की समस्‍त प्रक्रियाओं का प्रबंध एरोनेट के जरिए किया जाता है। यह सभी राज्‍यों और केन्‍द्र शासित प्रदेशों का साझा डेटाबेस है, जिसमें 91 करोड़ मतदाताओं का डेटा उपलब्‍ध है। भारत निर्वाचन आयोग की गतिविधियों के संबंध में विभिन्‍न वेब आधारित सेवाओं के मद्देनजर मतदाता सूची तैयार करने में इसका उपयोग किया जाता है।