कथा के अंतिम दिन उमड़ी श्रद्धालुओ की भीड़

 


ग्रेटर नोएडा: अल्फा २ ग्रीन बेल्ट में कथा वाचक विजय कौशल जी महाराज की कथा का समापन


महाराज जी ने ये बताया कि समाज के अंदर ये भ्रांति है कि महिलाओं को हनुमान जी की पूजा नही करनी चाहिये।उनकी मूर्ति का स्पृश नही करना चाहिए।ऐसा किसी भी पुस्तक में नही लिखा है।



महिला भी हनुमान जी की आरती या हनुमान चालीसा पढ़ सकती हैं। ये जरूरी नहीं होता कि सिर्फ मंदिर में ही भगवान का नाम लेने से पूजा होती है। मनुस्य किसी भी स्थान पर जाप करले उसी से भगवान की पूजा हो जाती है। कौशल जी महाराज ने बताया धर्म सेवा के साथ साथ मानव सेवा ,परिवार सेवा भी करनी चाहिए।



आज कथा में उमेश बंसल,सत्यप्रकाश अग्रवाल,कुलदीप शर्मा,मुकुल गोयल,सौरभ बंसल,पी पी मिश्रा,मोनू जेवर,मनोज गर्ग,मंजीत सिंह,अवधेश पांडेय,ललित शर्मा,के के शर्मा,सतेंद्र राघव,वेद प्रकाश,गौरव उपाध्याय,गिरीश गुप्ता,जितेंद्र त्रिपाठी,विनीत पांडेय,धनप्रकाश शर्मा,मेघराज भाटी,अमरजीत सिंह,सुरेश चंद पचौरी,कपिल गुप्ता,वैभव बंसल ,विनय गुप्ता,जी पी गोस्वामी,धनप्रकाश शर्मा,आलोक गोयल,अरविंद तिवारी,यतेंद्र शर्मा,संजीव सालवान,अमित गौड़,सरोज तोमर,बीना भाटी,सुमन गोयल,आदि लोग उपस्थित रहे।