चीनी फिल्म “वाइटलिटी” सभी तरह के संबंधों में आत्ममुक्ति और प्यार की कहानी है : निर्देशक डॉन्गमिन ऊ

फिल्म “क्रोनोलॉजी” के तुर्की निर्देशक अली आयदिन ने कहा है कि उनकी फिल्म पुरुष प्रधानता वाले समाज में महिलाओं की पीड़ा की अभिव्यक्ति है। आज गोवा में भारत अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह में संवाददाताओं से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि यह फिल्म  महिलाओं को दी जाने वाली पीड़ा का विरोध है। मैं अनकही कहानी व्यक्त करना चाहता था और तुर्की में महिलाओं की वास्तविकता तथा पुरुषों की सोच को कहना चाहता था। “क्रोनोलॉजी” फिल्म में नायिका की भूमिका निभाने वाली सिमरे इबुजिया ने बताया कि उन्होंने यह भूमिका इसलिए स्वीकार की क्योंकि उन्हें पटकथा अच्छी लगी, निर्देशक में विश्वास था और उन्हें कहानी भी पसंद आई। सुश्री इबुजिया ने कहा कि ये ऐसी कहानियां हैं जो बार-बार नहीं कही जातीं। मैं इन्हें राजनीतिक और सामाजिक रूप से महत्वपूर्ण मानती हूं।तुर्की में फिल्म उद्योग के बारे में अली आयदिन ने कहा कि तुर्की की संस्कृति समृद्ध है, जिसमें अनेक संस्कृतियां जुड़ी हुईं हैं। तुर्की की सांस्कृतिक रूप से सम्पन्न फिल्म उद्योग में यह दिखता है।